...

9 views

प्रिय अतीत - घाव वो दवा है
प्रिय अतीत,
तुम्हारी यादें मेरे दिल के घाव हैं। वे हर दिन मेरे दिल को चोट पहुंचाती हैं, पर उन्हीं चोटों से मेरा हर दिन गुजरता है। मुझे अब पता चला कि घाव वो दवा है जो मेरे अंदर की ताक़त को जगाता है।

तुम्हारा साथ, तुम्हारी मुस्कान, सब कुछ मेरे लिए अद्भुत चिकित्सा है। तुम्हारी यादें मेरे दिल के अंदर नई ऊर्जा भर देती हैं। मैं जानती हूँ कि हमारा पुराना संबंध अब सिर्फ यादों के रूप में है, पर मैं उसे सदैव संजीव रखना चाहती हूँ।

ख़ुदा हाफ़िज़,

© Simrans