...

23 views

अधूरी मुलाकात
यूं तुझे देखकर फिर सारे लम्हों को यादकर
मेरी नब्ज़ थी रुकी रही तू बता मैं क्या करूं

फिर मैं वहां रुककर फिर ज़रा सा ठहरकर
मेरे पांव थे कि रुक गए तू बता मैं क्या करूं

जिस्म था कि कांपता रहा मैं सांसें रोककर
न तेरे सिवा कुछ याद है तू बता मैं क्या करूं

मुद्दतों बाद तू दिखा आंखें तूझसे मैं बचाकर
फिरता रहा बदहवास सा तू बता मैं क्या करूं

तुझ को मैं दिखा नहीं तूने भी अनदेखा कर
फिर मैं हुआ नज़रबंद सा तू बता मैं क्या करूं

ख़ुद अपनी ख़बर नहीं तुझे ख़ुद में सहेजकर
जो मेरा था वो सब गया तू बता मैं क्या करूं;

#raddikagaz #yourquote #prem #ishq #MissingYou #Love&love
#past #mulakat @raddi_kagaz
© रद्दी_काग़ज़