...

3 views

कुछ सवाल
क्यू थकी मानवता
क्यू जीती दानवता
क्यू मनुज कही सो रहा
क्यू प्रेम कही खो रहा
क्यू भाव पत्थर हुए कही
क्यू जलकर राख हुए कही
क्यू भावो का मोल नही
क्यू भावनाएं अनमोल नही
क्यों फैली निरस्त हैं
क्यू गुम रसधार हैं
क्यू कुछ सवाल अनंत से
क्यू कुछ विचार अखंड से






© Pragya Sharma