...

3 views

हमको नहीं एक रिप्लाई
हमको नहीं एक रिप्लाई,
कहां हो रही है सब सप्लाई,

हमें खुरचनी खुरच के दे दी,
किसको दे दी दूध मलाई,

हमको रोटी जली जलाई,
कहां गई पूड़ी तली तलाई,

सारी गैस की गैस निपट गई,
मुस्किल से थी दाल गलाई,

तसला चार डाल नहीं पाए,
दुखने लगी तेरी हाल कलाई,

सारा घूरा हमने डाला,
सारी ट्रॉली हमने खलाई,

मेरे सिर पे आके गिर गई,
किसकी बला ये टली टलाई

अपने लिए नई पेंसिल लेली,
हमको दे दी चली चलाई,

वापस आ गए धोखा खाकर,
करने गए थे "राम" भलाई,
© राम अवतार "राम"